M. Com Course Syllabus And Pattern / What is M. Com Course Syllabus

M. Com Course With Full Information

दोस्तों आज हम बात करते हैं एम कॉम क्या है और उसकी पूरी जानकारी तो एमकॉम की बात करें तो तो उसका मतलब होता है मास्टर ऑफ कॉमर्स यह एक पोस्ट ग्रैजुएट डिग्री है यह यूजीसी द्वारा एप्रूव्ड 2 साल का कोर्स है जो बैंकिंग फाइनेंशियल सेवाओं और इंश्योरपीएल के स्वागत हैअकाउंट और बिजनेस फिल्में अपना करियर जो बनाना चाहते हैं| उनके लिए यह कोर्स बहुत ही हेल्पफुल होता है| तो यह 2 साल का पाठ्यक्रम बीकॉम में पढ़ाए जाने वाले हैंजैसे इकोनामी और कैपिटल और रिवेन्यू और ट्रेड और टैक्सेसआदि के कामकाज में डीप में अभ्यास होता है और प्रैक्टिकल होता है एमकॉम एक स्पेशलाइज्ड अपील है इस कोर्स को वह उम्मीदवार कर सकते हैं वह स्टूडेंट कर सकते हैं जिन्हें बीकॉम या बीकॉम ऑनर्स की पढ़ाई की है| और सीए यस यस उम्मीदवारों के लिए भी एमकॉम एक अच्छा ऑप्शन हैहालांकि कई सीए यूएसए एमसीओ का पीछा नहीं करतेक्योंकि सीए या सीएस कोर्सबारहवीं कक्षा के बाद के जाते हैं| और अगर अब बात करें की एमकॉन के लिए क्वालिफिकेशन क्या होना चाहिएऔर क्या क्राइटेरिया होना चाहिए कोर्स की ड्यूरेशंस कितनी होती है तो आइए जानते हैं इनके बारे में अगर आप एमकॉम करना चाहते हैं तो रिकॉग्नाइज्ड यूनिवर्सिटी में से आपको बीकॉम और बीकॉम ऑनर्स में मिनिमम 50 परसेंट मार्क के साथ पास होना चाहिए केसरी यूनिवर्सिटी इकोनॉमिक्स (H) BMS, BFIA And BBE Course के लिए मिनिमम शॉर्ट परसेंट स्कोर वाले स्टूडेंट को एमकॉम के लिए प्रधान्य देती है| और एमकॉम के लिए फ्री स्ट्रक्चर अलग-अलग कॉलेज में अलग-अलग है जो 2000 से 8000 तक हो सकती है और अगर बात करें तो ड्यूरेशन की तो एमकॉम 2 साल का कोर्स होता है और इसमें 4 सेमेस्टर आते है एमकॉम कोर्स में अगर आप इन कोर्सेज में आगे स्पेशलाइज स्टडी करना चाहते हैं तो यहां पर बहुत बड़ा एरिया कवर होता है जैसे कि M. Computer (Taxation), एमकॉम मैथमेटिक्स एमकॉम अकाउंटिंग एंड फाइनेंस और एमकॉम बैंकिंग और एमकॉम बैंकिंग एंड फाइनेंस और एमकॉम मार्केटिंग और एमकॉम बिजनेस मैनेजमेंट और एमकॉम इकोनॉमिक्स और एमकॉम अकाउंटिंग और एमकॉम स्टैटिक्स और एमकॉम फाइनेंस और एमकॉम में फाइनेंस एंड कंट्रोल और एमको में ई-कॉमर्स ए और एम कॉम कंप्यूटर एप्लीकेशन तो बहुत बड़ा एरिया है जो भी आपको ठीक लगता है इंटरेस्टिंग लगता है आप उसे यूज कर सकते हैं और आगे अपनी स्टडी कंटिन्यू कर सकते हैं| अगर बात करें एमकॉम के लिए रिक्वायर्ड स्किल तो हमने एमकॉम के बारे में सब कुछ जान लिया लेकिन आप जानते हैं आपको किन किन स्किल की जरूरत पड़ेगी तो एमकॉम करने के लिए आप को मोटे तौर पर संख्याओं और घर आपको कैलकुलेशन के बारे में जानना होगा इसीलिए एक एम कॉम स्टूडेंट के संख्याओं और नंबर कैलकुलेशन में पैशन होना बहुत जरूरी है एक एक्सीलेंट स्टूडेंट बनने के लिए यह सब बहुत इंपॉर्टेंट है तो चलिए अब यह भी जान लेते हैं कि और क्या चाहिए|

  1. लॉजिकल रीजनिंग
  2. स्ट्रांग एंड एनालिटिकल स्किल्स
  3. स्ट्रांग वर्बल एंड कम्युनिकेशन स्किल
  4. लीडरशिप क्वालिटी और उसके साथ-साथ बैंकिंग एंड फाइनेंस सेक्टर का नॉलेज होना जरूरी है|
  5. लास्ट में कंप्यूटर में एमएस ऑफिस और अदर नॉर्मल कंप्यूटर हैंडलिंग में मिस्ट्री होनी बहुत ही आवश्यक है|

तो कहने का मतलब यह है कि हमने एमकॉम क्या है| और उसके बारे में सभी इंफॉर्मेशन के बारे में जाना लेकिन अब हम जानते हैं|

How and which job profiles can you get after M.Com

तो एमकॉम करने के बाद आपके लिए इतनी सारी नौकरी के ऑप्शन है आप सोच भी नहीं सकते एक्जेक्टली आप एमकॉम पूरा करने के बाद बीएफएसआई यानी कि बैंकिंग फाइनेंसियल सर्विस इंसुरेंस की फिल्में आप नौकरी की तलाश कर सकते हैं| एमकॉम को कंप्लीट करने के बाद प्राइवेट और पब्लिक है और गवर्नमेंट सेक्टर में ज्यादा से ज्यादा नौकरी के लिए अप्लाई कर सकते हैं उसके लिए राष्ट्रीय पद बैंक रेलवे और आयकर अन्य ऐसे सरकारी विभाग में एमकॉम डिग्री धारकों के लिए एक सुरक्षित औरसमृद्धि कार्य बनाने के लिएएक अच्छा ऑप्शन है| एमकॉम करने के बादआप अकाउंटेंट और सीनियर अकाउंटेंटफाइनेंस एडजेक्टिवकैसियर चार्टर्ड अकाउंटेंटकोई भी प्राइवेटकोई भी ब्रोकर या वेल्थ मैनेजर और रिसर्च आपकी नजदीकी स्कूल टीचर कोई फाइनेंस कंपनीमैं मैनेजर अकाउंट एग्जिट यूकंपनी सेक्रेट्री मार्केटिंग मैनेजर कॉलेज में लेक्चररफाइनेंस कंसलटेंट कोई भी इंश्योरेंस कंपनी के इन सीहोर एजेंट भी बन सकते हैं|

What kind of jobs can I get after M.Com.

उसके बारे में अब हम बात करते हैं एमकॉम डिग्री कैंडिडेट के कौन-कौन सेबड़े लिक्विडेटर है अब हम बात करते हैं एमकॉम डिग्री कैंडिडेट के कौन से बड़े recruiter है जैसे कि एसबीआई या पंजाब नेशनल बैंक के या आई सी आई सी आई बैंक या सिटीबैंक या एचडीएफसी जैसी बड़ी बड़ी प्राइवेट है| एंड गवर्नमेंट बैंक्स और उसके साथ-साथ अर्नेस्ट एंड यंग और केपीएमजी या प्राइस वॉटरहाउस कूपर या टीएफसी एंड डिलाइट जैसी कंपनियां सबसे बड़ी एमकॉम कैंडिडेट की डेकोरेटर है अगर हम एमकॉम करने के बाद सबसे इंपोर्टेंट है|

Salary:

अगर सैलरी की बात करें तो एमकॉम डिग्री मुख्य रूप से कमर से आधारित क्षेत्र पर केंद्रित है| प्रबंधन और अर्थशास्त्र आधारित विषयों जैसे कुछ अन्य फील है प्रतियोगिता के बाद प्रतिभा उम्मीद साली उम्मीदवार लोगों को उच्च दिया जाता है| अगर कोई विद्यार्थी बैंकों में पी ओ के रूप में सिलेक्ट हो जाता है| तो उसका पहला वेतन ₹25000 से ऊपर होता है संबंधित फिल्में अनुभव के साथ-साथ उम्मीदवार निजी कंपनियों मेबहुत अधिक है| पैकेज प्राप्त करने में सक्षम हो गए जो लोग एकाउंटिंग के रूप मेंशुरू करते हैंवह लगभग 6000 से 10000 तक वेतन प्राप्त कर लेते हैं|और फिर यस यसउच्च योग्यता के बाद ₹100000 तक का वेतन प्राप्त कर लेते हैंअब आगे बात करते हैं|

Best Universities and Colleges for Om right now

जैसे कि एसआरएम यूनिवर्सिटी हरियाणा और जेएनयू जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी और यूनिवर्सिटी ऑफ पुणे और बैंगलोर यूनिवर्सिटी और यूनिवर्सिटी ऑफ हैदराबाद और सिंबोसिस कॉलेज ऑफ़ आर्ट्स एंड कॉमर्स और पुणे लोयोला कॉलेज चेन्नई हंसराज कॉलेज और दिल्ली St. जोसेफ कॉलेजआवर बेंगलुरु हिंदू कॉलेज और दिल्ली श्री राम कॉलेज ऑफ कॉमर्स जैसे एसआरसीसी, न्यू दिल्ली क्रिस्ट कॉलेज और बेंगलुरु मोहन जी कॉलेज ऑफ कॉमर्स एंड इकोनॉमिक्स|

Leave a Comment

Your email address will not be published.